नसीराबाद,रायबरेली--जानवरों का आराम गाह बना एएनएम सेन्टर।

Date: 2022-01-15
news-banner


डॉ.कामता नाथ सिंह ।
नसीराबाद,रायबरेली।
सैकड़ों जच्चा-बच्चा को जीवनदान देने वाला एएनएम सेन्टर अपनी बदहाली पर बहा रहा है। लावारिस पड़े सेन्टर पर छुट्टा जानवरों ने अपना अड्डा बना लिया है।
 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नसीराबाद के अन्तर्गत ग्राम निनावांँ में लाखों रुपए की लागत से बने एएनएम सेन्टर की कई सालों से बदहाल है।
मेन गेट, खिड़की, दरवाजे व आलमारी आदि सब क्षति ग्रस्त हैं। 
 स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों को फुर्सत नहीं है कि उक्त सरकारी इमारत को नष्ट होने से बचा ले। 
सेन्टर के पास रहने वाले राम नरेश पाल ने बताया कि काफी समय से यहाँ कोई रहता नहीं है। उन लोगों के घर की महिलाओं व बच्चों को कोई दिक्कत होती है तो सलोन या फिर नसीराबाद लेकर जाना पड़ता है। इस सेन्टर से पहले ग्रामीणों को बहुत लाभ मिल जाता था, अब तो सिर्फ यादें मात्र बचीं हैं।रात या बरसात में गेट टूट जाने की वजह से यहां छुट्टा जानवर निवास करते हैं।
    देख रेख न होने की वजह से पूरी बिल्डिंग धराशायी होने की कगार पर है। आस पड़ोस की औरतें कहती हैं कि कभी यह स्थान दवा के काम आता था,अब ओपरी व कण्डा पाथने के काम आ रहा है। पूरे एएनएम सेन्टर परिसर में महिलाएं व बच्चे कण्डा फैलाये हुए हैं। सी एच सी नसीराबाद प्रभारी संजय जायसवाल ने बताया कि बारा,निनावां आदि सेन्टरों पर कोई ए एन एम तैनात नहीं है। यहां बहुत ही कम ए एन एम है,जो अस्पताल में ही काम करने के लिए कम पड़ जाती है। क्षेत्र के पूर्व ब्लाक प्रमुख नरेंद्र सिंह, गुड्डू सिंह, पुनीत सिंह, प्रभात, अनिल कुमार, मुस्तफा, गेंदा लाल व नन्हे तिवारी आदि लोगों ने जिलाधिकारी से सेन्टर दुरुस्त कर चालू कराये जाने की माँग की है।
  • Leave Your Comments